ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
व्यापारियों ने की 2021 में कुंभ मेला सकुशल सम्पन्न कराने की मांग
September 20, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार

जहाँगीर मलिक

हरिद्वार के व्यापारियों ने रविवार को महाकुम्भ मेले‌ को सकुशल समय पर कराने‌ के लिए अपर रोड़ पर इकट्ठा होकर प्रदर्शन कर मांग की प्रान्तीय उद्योग व्यापार मण्डल के जिलाध्यक्ष डॉ नीरज सिंघल ने कहा कि पौराणिक सिद्ध पीठों व मठ मंदिरों के सौन्दर्यीकरण के काम भी तेजी के साथ किए जाएं। महाकुंभ मेला हिन्दुओं की आस्था का पर्व हैं। गंगा मां के आशीर्वाद से महाकुंभ मेला निर्विघ्न संपन्न होना चाहिए। हरिद्वार का व्यापारी कोरोना संकट के कारण भूखमरी की कगार पर हैं। जिस प्रकार से सावन मेला न कराकर प्रशासन अपनी पीठ थपथपा रहा हैं। पर उनको जानकारी होनी चाहिए। कि इससे व्यापार पर बहुत बुरा असर पड़ा हैं। थोड़ी सी जो संजीवनी व्यापारी को मिलनी थी। उससे भी व्यापारी के हाथ कुछ न लग पाया ओर कहा सरकार की मन की भावनाओ से प्रेरित हो रहा हैं। सरकार कुम्भ मेला‌ कराने के इच्छुक नहीं हैं। अभी तक गंगा घाटो के कार्य अधूरे पड़े हैं। ठेकेदार डिंगा मस्ति कर रहे हैं।प्रान्तीय उद्योग व्यापार मण्डल जिला महामंत्री संजय त्रिवाल ने कहा कि सनातन परंपराओं का अद्भूत संगम महाकुंभ मेले में देखने को मिलता हैं। देश दुनिया से संत महापुरुषों के साथ साथ श्रद्धालु भक्त धर्मनगरी में धार्मिक क्रियाकलापों में हिस्सा लेते हैं। और मेले के दौरान व्यापारी वर्ग को भी रोजी रोटी के लिए संचार उतपन्न होता हैं। उन्होंने सरकार से मांग की हैं। कि हरकी पैड़ी सहित विभिन्न गंगा घाटों का सौंन्दर्यीकरण प्रमुखता से होना चाहिए। उन्होंने उत्तराखंड सरकार से कहा की कुंभ मेला अगर व्यवस्थित रूप से नहीं लगता तो व्यापारियों के लिए रोजगार की बहुत बड़ी मुसीबत खड़ी हो जाएगी। क्योंकि व्यापारी पहले ही टूटकर बेहाल हुआ बैठा हैं। और अब कुंभ मेला भी नहीं लगेगा तो व्यापारी आत्महत्या करने को मजबूर हो जाएगा। व्यापारी नेता मनीष गुप्ता ने कहा कि सामाजिक संगठन, व्यापारी, संत महापुरुष महाकुंभ मेले को सकुशल संपन्न कराने में अपना योगदान देते चले आ रहे हैं। मेला प्रशासन को भी धर्मनगरी के लोगों की भावनाओं के अनुरूप कुंभ मेले की व्यवस्थाओं को तेजी के साथ लागू कराना चाहिए। मूलभूत सुविधाएं बाहर से आने वाले श्रद्धालु भक्तों को मिले। मेला प्रशासन व आम जनमानस अवश्य ही मेले को सकुशल कराने में अपना योगदान देगा। पुरजोर मांग करने वालो में सागर सक्सेना,विकास कुमार,दिनेश साहू,दिनेश कुकरेजा,पवन सुखिजा,मोहनदास गोस्वामी,गगन गुगनानी,अजय रावल,सुनील कुमार,सुरेश कुमार,महेन्द्र कुमार,नितिश कुमार,अमन कुमार,प्रिंस रावत,सूरज कुमार,रींकू सक्सेना,ऋषभ गोयल, अतुल चौहान, मन्नू, मनीष चौहान, विनोद, राजेश अग्रवाल,गोपाल गोस्वामी, सुनील त्यागी आदि व्यापारी मौजूद थे।।