ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
वाहनों में ओवरलोडिंग और ओवरहाईट जारी,
December 14, 2019 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार

वाहनों में ओवरलोडिंग और ओवरहाईट जारी,

जिम्मेदार विभाग रोक लगाने में नाकाम

स्थानीय फैक्ट्री प्रबंधन की मिलीभगत से जारी है, वाहन ओवरलोडिंग और ओवरहाईट का खेल

ऐजाज हुसैन 

लालकुआं। पुलिस एवं परिवहन विभाग के तमाम दावों के बीच वाहनों में ओवरलोडिंग और ओवरहाईट रुकने का नाम नहीं ले रही है। लालकुआं में सेंचुरी पेपर मिल, रेलवे स्लीपर प्लांट समेत रेता-बजरी और लकड़ी की बड़ी मंडी है। जिसके चलते यहां रोजाना छोटे-बड़े सभी तरह के वाहनों का आवागमन लगा रहता है। इनमें से अधिकतर वाहन  ओवरलोड और ओवरहाईट होते हैं। यहां की फैक्ट्री में बगास, लकड़ी आदि लेकर आने वाले तथा यहां से रेलवे स्लीपर, रेता-बजरी आदि भरकर ले जाने वाले अधिकांश वाहन ओवरलोड के साथ-साथ ओवरहाईट भी होते हैं। ऐसे ओवरलोड एवं ओवरहाईट वाहनों को नेशनल हाईवे की सड़क पर दौड़ते हुए दिन-रात आसानी से देखा जा सकता है। वहीं शायद यह ओवरलोड एवं ओवरहाईट वाहन उन लोगों को दिखाई नहीं दे रहे हैं जो इन्हें रोकने के लिए जिम्मेदार हैं। जबकि इन वाहनों को माल लोडिंग स्थान से लेकर अपने गंतव्य तक आवागमन के दौरान दर्जनों पुलिस, आरटीओ एवं वन विभाग के चेकपोस्टों से होकर गुजरना पड़ता है। ऐसे में बड़ा सवाल यह उठता है कि पुलिस, परिवहन और वन विभाग की चेकपोस्टों पर लगातार जारी चैकिंग के बावजूद यह वाहन आखिर उनको नजर क्यों नहीं आते हैं। जबकि आला अधिकारियों द्वारा वाहन दुर्घटनाओं के बढ़ते हुए ग्राफ को देखते हुए लगातार संबंधित विभागों को ओवरलोडिंग और ओवरहाईट वाहनों पर कार्रवाई के निर्देश दिए जा रहे हैं। इसके बावजूद वाहनों में ओवरलोडिंग और ओवरहाईट रुकने का नाम नहीं ले रही है। जिसके चलते होने वाली दुर्घटनाओं में असमय ही नागरिकों को अपनी जान-माल का नुक़सान उठाना पड़ रहा है और तमाम लोग सड़क हादसों में घायल हो दुख भरी जिंदगी जीने को   मजबूर हैं।
वहीं यदि ओवरलोडिंग में शामिल वाहन चालकों की मानें तो उनका कहना है ओवरलोड एवं ओवरहाईट चलने  के एवज में उन्हें बाकायदा हर महीने टोकन मनी चुकानी होती है। अन्यथा ओवरलोड और ओवरहाईट वाहनों का सड़कों पर चलना संभव नहीं हैं।
वहीं जनपद उधमसिंह नगर एवं नैनीताल के उच्चाधिकारियों का कहना है कि उन्हें वाहनों में ओवरलोडिंग और ओवरहाईट की शिकायतें मिली हैं।  उन्होंने संबंधित विभाग को आदेश जारी कर दिये हैं। यदि कोई वाहन  ओवरलोड और ओवरहाईट पाया जाता है तो उसके खिलाफ कड़ी  कार्रवाई की जाएगी।