ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
संस्थान में होने वाली नियुक्तियों से संबंंधित परीक्षाएं पूर्ण पारदर्शी तरीके से संपन्न कराई जाती हैं,
January 22, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार

प्रेस विज्ञप्ति एम्स                                                                                                                                                                                             अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश द्वारा विभिन्न पदों पर  23 जनवरी बृहस्पतिवार को आयोजित होने वाली परीक्षाओं के मद्देनजर विभिन्न तरह अफवाहों का बाजार गर्म है,जिसमें नियुक्तियों के मद्देनजर पैसा लेने व पेपर लीक किए जाने आदि बातें की जा रही हैं। जिसके चलते एम्स प्रशासन अलर्ट हो गया है। एम्स प्रशासन ने संस्थान स्तर पर इस तरह के किसी भी मामले में संलिप्तता को सिरे से खारिज किया है। संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी ने स्पष्ट किया है कि ऐसे किसी मामले में यदि संस्थान के किसी अधिकारी अथवा कर्मचारी की संलिप्तता पाई जाती है तो उसके खिलाफ कठोर विभागीय कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने बताया कि संस्थान में होने वाली नियुक्तियों से संबंंधित परीक्षाएं पूर्ण पारदर्शी तरीके से संपन्न कराई जाती हैं, जिनमें इस तरह की कहीं कोई गुंजाइश ही नहीं है। उन्होंने आम नागरिकों से अपील की है कि वह एम्स में स्थायी नियुक्तियां दिलाने के नाम पर पैसा लेकर ठगी करने वाले लोगों से सतर्क रहें, साथ ही आम जनता के बीच सक्रिय ऐसे तत्वों से एम्स प्रशासन को अवगत कराएं।                                                                                                                                                                                                                                      निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी ने बताया कि संस्थान में नर्सिंग ऑफिसर, डाइटीशियन,स्टेनोग्राफर, मल्टीरिहेब्लिटेशन वर्कर आदि पदों के लिए देशभर में 71 केंद्रों पर 23 जनवरी बृहस्पतिवार को परीक्षा संपन्न होनी है। जिसके मद्देनजर कुछ लोगों द्वारा परीक्षा में पास कराने व संस्थान में स्थायी नियुक्ति के नाम पर आमजन से धन वसूली के लिए सक्रियता का मामला संज्ञान में आया है। निदेशक एम्स ने स्पष्ट किया कि जो लोग संस्थान में नियुक्तियों को लेकर कथित तौर पर इस तरह की गतिविधियों में संलिप्त हैं, वह लोगों को नियुक्तियों के नाम पर गुमराह कर रहे हैं।                                                                    निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी ने एम्स संस्थान में स्थायी नियुक्ति के इच्छुक लोगों से ठगी करने वाले ऐसे तत्वों के बहकावे में नहीं आने व संस्थान में नियुक्ति के नाम पर किसी भी व्यक्ति को किसी प्रकार की धनरा​शि नहीं देने की अपील की है। उन्होंने बताया कि संस्थान में विभिन्न पदों पर होने वाली परीक्षाएं पारदर्शी सिस्टम के तहत संपन्न कराई जाती हैं और परीक्षा में मेधावी अभ्यर्थियों को ही संस्थान में नियुक्ति दी जाती है। ऐसे में नियुक्ति को लेकर संस्थान स्तर पर किसी व्यक्ति द्वारा धन लेने जैसी अफवाहें सर्वथा गलत हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि यदि इस तरह के मामलों में संस्थान का कोई अधिकारी अथवा कर्मचारी की संलिप्तता सामने आती है तो उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत जी ने आम जनता से एम्स में किसी भी तरह की नियुक्तियों के नाम पर धनराशि की मांग करने वाले लोगों से सावधान रहने व ऐसे लोगों से संबंधित पुष्ट जानकारी एम्स संस्थान अथवा पुलिस को देने की अपील की है।