ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
राष्ट्रीय राजमार्ग के अवैध चल रहे आर एम सी प्लांट और हॉटमिक्स प्लांट पर छापेमारी ,तहसील दार ने किया सील
March 2, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • बैरागी केम्प में बिना परमिशन के चल रहे क्रेशर पर तहसीलदार ने की सीलिंग की कार्रवाई 
  • जहाँगीर मलिक


हरिद्वार:हड़ताल पर गए हरिद्वार के स्टोन क्रेशर कारोबारियों ने राष्ट्रिय राजमार्ग निर्माण के लिए खनन सामग्री उपलब्ध कराने वाले स्टोन क्रेशर को बंद करा दिया। बड़ी संख्या में पहुंचे क्रेशर कारोबारियों ने एनएचएआई के अधिकारियो पर बिना परमिशन के स्टोन क्रेशर चलाने का आरोप लगाया और जिला प्रशासन से इसके खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की वही मौके पर पहुंचे तहसीलदार आशीष घिल्डियाल ने मानको को ना पूरे होने पर क्रेशर पर सीलिंग की कार्रवाई की है। ये स्टोन क्रेशर हरिद्वार के गँगा किनारे बैरागी कैंप में चलाया जा रहा था। स्टोन क्रेशर कारोबारियों ने मौके पर खनन विभाग और एनएचएआई के अधिकारियो को मौके पर बुलाया और स्टोन क्रेशर को बंद करा दिया। क्रेशर कारोबारियों का आरोप है कि इनके पास कोई प्रदुषण , भण्डारण की परमिशन के कोई दस्तावेज नहीं है। बिना परमिशन के ये क्रेशर के चलने के इसके पीछे किसका हाथ है उसकी जाँच होनी चाहिए और जितना माल इन्होने यहाँ से उठाया और स्टोर किया हुआ है, इस सब की पैमाइश करके इन पर बड़ा जुर्माना भी लगाने की मांग उन्होंने की है। 

 

खनन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर स्टोन क्रेशर चला रहे कम्पनी के अधिकारियो से परमिशन के कागज मांगे तो वे दस्तावेज नहीं दिखा पाए। फ़िलहाल टीम ने मौके पर पड़ी खनन सामग्री के सैंपल लेकर जाँच के लिए भेज दिए और पुरे क्षेत्र की पैमाइश भी की। खनन अधिकारी का कहना है कि स्टोन क्रेशर संचालक कम्पनी दस्तावेज दिखा नहीं पाए और सैंपल की जाँच और नपाई उनके द्वारा कर ली गई है और इस पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। 

इस मामले में मौके पर पहुँचे तहसीलदार आशीष घिलडियाल का कहना है कि क्रेशर से एनएच के कार्य पूरे किए जाने है मौके पर पाया गया है कि इनके द्वारा मानकों को पूरा नही किया गया है भंडारण और दूसरी अनुमति मौके पर क्रेशर संचालकों द्वारा नही दिखाई गई है जिस कारण इस क्रेशर को सील किया गया है वही संबंधित विभागों को भी उचित करवाई के निर्देश दिए गए है वही मामले के बारे में उच्चाधिकारियों के भी संज्ञान में डाल दिया गया है वही और क्षेत्र में जो इस तरह के क्रेशर संचालित हो रहे है उनके खिलाफ भी कारवाई की जाएगी