ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
निरीक्षण के दौरान लाइसेंस को लेकर डॉक्टर और ड्रग इंस्पेक्टर की हुई बहस
May 8, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • निरीक्षण के दौरान लाइसेंस को लेकर डॉक्टर और ड्रग इंस्पेक्टर की हुई बहस लाइसेंस बनवाने के लिए दिया 7 दिन का समय

कोरोना संक्रमण आपदा से पूरा विश्व त्रस्त है और इसके चलते देश में भी लोक डाउन किया गया है लॉक डाउन के दौरान भी ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती का हरिद्वार में निरीक्षण जारी है निरीक्षण के दौरान ड्रग इंस्पेक्टर अनीता भारती झोलाछाप डॉक्टरों अवैध या बिना लाइसेंस के संचालित क्लीनिक व हॉस्पिटल और कंपनियों में पाई जाने वाली खामियों पर कार्रवाई भी करती है निरीक्षण करने हरिद्वार पहुंची ड्रग इंस्पेक्टर ने कई कंपनियों के साथ कनखल स्थित शिव शक्ति हॉस्पिटल का निरीक्षण किया और अनियमितता पाए जाने पर शिव शक्ति हॉस्पिटल को एक हफ्ते के भीतर लाइसेंस लेने की हिदायत दी वही इस दौरान डॉक्टर और ड्रग इंस्पेक्टर के बीच नोक झोंक भी हुई और हॉस्पिटल के डॉक्टर  नेतागिरी की हनक दिखाने से भी नही चुके।

हरिद्वार निरीक्षण पर ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती का कहना है कि मेरे द्वारा तीन कंपनी जो सैनिटाइजर का निर्माण करती क्लिनिक और मेडिकल स्टोर्स और हॉस्पिटल्स का निरीक्षण किया गया निरीक्षण के दौरान शिव शक्ति हॉस्पिटल में डॉ राजकुमार सैनी मरीज़ों को देख भी रहे थे और मरीज़ों को अपने ही पास से दवाई भी वितरित कर रहे थे होस्पिटल में कई मरीज़ों को दाखिल भी किया हुआ था और कई दवाई ऐसी थी जो बिना लाइसेंस के बेची नही जा सकती उन दवाइयों को भी बिना लाइसेंस के बेचा जा रहा था मेरे पूछने पर डॉ लाइसेंस प्रस्तुत नही कर पाए और उनका कहना था कि उन्हें किसी लाइसेंस की जरूरत भी नही है डॉ राजकुमार मौके पर तर्क वितर्क करने लगे और सत्ता धारी पार्टी की हनक की दिखाने लगे डॉ राजकूमार यह भी कहने से चुके नही की "मै कुछ भी कर सकता हूं" और बहुत देर बाद डॉ द्वारा लाइसेंस लेने पर हामी भरी गई और इसके लिए हॉस्पिटल को 7 दिन का समय दिया गया है