ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
कॉलेज में कोरोना वायरस से बचाव हेतु सुझाव दिए गए
March 4, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • काॅलेज ने छात्र-छात्राओं, प्राध्यापकों को कोरोना वायरस से बचाव हेतु दिए सुझाव

 हरिद्वार :  एस.एम.जे.एन.पी.जी. काॅलेज में आज कोरोना वायरस से बचाव हेतु चिकित्सक डाॅ. ज्योति चौहान द्वारा प्राध्यापकों, शिक्षणेत्तर कर्मचारियों और छात्र-छात्राओं को कोरोनावायरस से बचाव हेतु सुझाव दिये। 
 डाॅ. ज्योति चौहान ने कोरोना वायरस से बचने हेतु सुझावों में बताया कि हमें थोड़ी-थोड़ी देर बाद पानी का सेवन करते रहना चाहिए जिससे गले में नमी बनी रहे। किसी के साथ अभिवादन में हाथ नहीं मिलायें तथा अभिवादन हेतु ‘नमस्ते’ का प्रयोग करें। डाॅ. चौहान ने बताया कि किसी भी सहपाठी से वार्ता करते हुए लगभग तीन फीट की दूरी बनाये रखें तथा प्रतिदिन सुबह एवं रात्रि में टूथ ब्रुश करते समय टंग क्लीनर से जीभ अवश्य साफ करें। जब कोई व्यक्ति खांसता या छींकता है तो हवा में वायरस फैल जाता है, अगर आप उसके ज्यादा करीब रहेंगे तो सांस के रास्ते ये वायरस आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के लक्ष्णों में सिरदर्द, नाक बहना, खांसी, गले में खराश, बुखार, अस्वस्थता का अहसास होना, छींक आना, अस्थमा का बिगड़ना, थकान महसूस होना, निमोनिया, फेफड़ों में सूजन आदि शामिल हैं।  
 डाॅ. चौहान ने सुझाव दिया कि अक्सर हम अपनी नाक, मुंह और आंखों को बार-बार छूते रहते हैं, ऐसा कतई न करें, क्योंकि हथेली कई सतहों को छूती है ऐसे में उस पर वायरस होते हैं। अपने आस-पास सफाई का विशेष ध्यान रखें। 
 काॅलेज प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि चीन के बाद अब कोरोना वायरस ने दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। ऐसे में एहतियाती कदम ही सबसे बड़ी बचाव साबित हो सकता है। डाॅ. बत्रा ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु सुझाव दिया कि हमें नियमित तौर पर दिन में कई बार साबुन और पानी से अपने हाथों को कम से कम 20 सैकण्ड तक धोना चाहिए तथा सैनिटाईजर का प्रयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम मोबाइल को सबसे ज्यादा प्रयोग करते हैं तथा उसको भी सैनिटाइजर के द्वारा साफ अवश्य करें।
 अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने उपस्थित सभी का आह्वान करते हुए सुझाव दिया कि अगर आपको बुखार, खांसी है या सांस लेने में परेशानी हो रही है तो तुरन्त चिकित्सक से मिलें, कोशिश करें कि घर पर ही चिकित्सक आपकी जांच कर लें। चिकित्सक से तुरन्त सम्पर्क करने से बीमारी को शुरूआत में ही इस वायरस से निजात मिल सकती है। 
 मुख्य अनुशासन अधिकारी डाॅ. सरस्वती पाठक ने सुझाव दिया कि कोरोना वायरस के लिए अभी तक कोई वैक्सीन तैयार नहीं की गयी है, सावधानी के तौर पर संक्रमित लोगों से दूरी बनाकर ही अपना बचाव किया जा सकता है। 
 इस अवसर पर डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. मनोज सोही, डाॅ. शिव कुमार चौहान, डाॅ. रीतू चौधरी, डाॅ. पदमावती तनेजा, वैभव बत्रा, मोहन चन्द्र पाण्डेय डॉ विजय शर्मा, अंकित अग्रवाल, डॉक्टर जेसी आर्य, नलनी जैन, प्रिंस श्रोतिय, विनीत सक्सेना ,रिंकल  गोयल, रिचा मिनोचा, डॉक्टर लता शर्मा, निविन्दया शर्मा, डॉ विनीता चौहान ,कंचन तनेजा आदि उपस्थित रहे।