ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
जिलाधिकारी ने मोबाईल मेडिकल यूनिट वाहन को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
January 5, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
 
  • जनपद  की स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने की दिशा में जिलाधिकारी  सविन बंसल का एक कदम और
 
ललित जोशी नैनीताल
 
     नैनीताल । जनपद  की स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने की दिशा में जिलाधिकारी  सविन बंसल पूरी तन्मयता से जुटे हुए हैं। 
इस दिशा में जिलाधिकारी श्री बंसल ने जनद के दूरस्थ क्षेत्र बेतालघाट एवं ओखलकाण्डा में स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ व बेहतर बनाते हुए आधुनिकतम चिकित्सा तकनीकि से युक्त मोबाईल मेडिकल यूनिट वाहन को कैम्प कार्यालय से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
श्री बंसल ने कहा कि बेतालघाट एवं ओखलकाण्डा के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले आम लोगों को विशेषकर उन लोगों को जो बुजुर्ग, बीमार, अपाहिज होने के कारण सफर करते हुए अस्पताल नहीं पहुंच सकते, ऐसे लोगों को उनके घर के पास बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुफ्त उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से शुरू की गई मोबाइल मेडिकल यूनिट सेवा वरदान साबित होगी। 
एसीएमओ डाॅ.रश्मि पन्त ने बताया कि मोबाइल मेडिकल यूनिट वाहन में ईसीजी,लिपिड प्रोफाइल टेस्ट, किडनी फंक्शन टेंस्ट, लीवर फंक्शन टेस्ट, यूरिन, ब्लड, बीपी सहित विभिन्न प्रकार की जाॅचे मोबाईल टीम द्वारा मौके पर ही की जा सकेंगी। 
मोबाईल यूनिट वाहन एक पीएचसी की भाॅति कार्य करने में पूर्णतः सक्षम है। उन्होंने बताया कि मोबाईल यूनिट का संचालन प्रति माह 4 तारीख से 25 तारीख तक कुल 22 दिन किया जायेगा। जिसमें से 15 दिन बैतालघाट क्षेत्र व 7 दिन ओखलकाण्डा क्षेत्र में किया जाएगा। जिससे क्षेत्र की लगभग 40 हजार जनसंख्या लाभांवित होगी। मोबाईल यूनिट सेवा में प्रति मरीज 10 रूपये फीस निर्धारित की गयी है तथा सभी प्रकार की जाॅच एवं दवायें निःशुल्क उपलब्ध करायी जायेंगी। उन्होंने बताया कि मोबाईल यूनिट व टेलीमेडिसिन सेवा आपसी समन्वय से कार्य करेगी, जिससे क्षेत्रीय जनता को दोनो सेवाओं का और अधिक प्रभावी तरीके से लाभ मिल सके। इस अवसर पर मोबाईल मेडिकल यूनिट द्वारा कैम्प कार्यालय में उपस्थित 42 व्यक्तियों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं विभिन्न प्रकार की जाॅच करते हुए दवाई भी वितरित की गयी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.भारती राणा, एआरटीओ विमल पाण्डे, जिला शिक्षा अधिकारी हीरालाल गौतम, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, अधिशासी  अभियंता जल संस्थान विशाल कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।