ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
जगद्गुरु शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम ने क्या कहा
November 7, 2019 • सतोपथ एक्सप्रेस • ब्रेकिंग

पत्रकारिता और समाचार पत्र है समाज का दर्पण: जगद्गुरु शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम
नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इण्डिया) की ओर से प्रेस क्लब में मनायी गयी गणेश शंकर विद्यार्थी की जयन्ती
शहर की आठ विभूतियों को उत्कृष्ट कार्य के लिये प्रदान किया गया गणेशशंकर विद्यार्थी सम्मान
 संग्राम सेनानी एवं पत्रकारिता के आदर्श महापुरूष अमर शहीद गणेश शंकर विद्यार्थी की जयन्ती पखवाडा समापन पर अन्तर्गत नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इण्डिया) की ओर से प्रेस क्लब में संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जगद्गुरू शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि पत्रकार और पत्रकारिता समाज का दर्पण है। गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकारिता के आदर्श महापुरूष हैं जिन्होंने विपरीत परिस्थितियों में संघर्ष कर पत्रकारिता के उच्च मापदंड़ों को स्थापित करते हुए सामाजिक समरसता और साम्प्रदायिक सद्भाव के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग किया। उन्होंने कहा कि पत्रकार की सामाजिक जिम्मेदारियां और राष्ट्र के प्रति समर्पण पत्रकारिता की प्रथम सीढ़ी है। समारोह की अध्यक्षता करते हुए गुरूकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. रूपकिशोर शास्त्री ने कहा कि वर्तमान समय में पत्रकारिता के सामने अनेक चुनौतियां है जिनका उन्हें सामना करना पड़ रहा है। गणेशशंकर विद्यार्थी की शिक्षाओं को जीवन में उतार कर निष्पक्ष पत्रकारिता की जा सकती है। समारोह में मुख्य वक्ता के रूप में एनयूजेआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक मलिक ने कहा कि गणेशशंकर विद्यार्थी ने स्वतंत्रता संग्राम और पत्रकारिता के क्षेत्र में जो योगदान दिया हैं उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता है। उनका राष्ट्रप्रेम निर्भिकता और निष्पक्षता ऐसे आयाम है जो सदैव पत्रकारों का मार्गदर्शन करते रहंेगे। एनयूजेआई के प्रदेश अध्यक्ष वृजेन्द्र हर्ष ने गणेश शंकर विद्यार्थी को स्मरण करते हुए कानपुर में साम्प्रदायिक दंगों के बीच उनकी निष्पक्षता और समाज के प्रति उनकी निष्ठा को उल्लेखित करते हुए वर्तमान में सामाजिक सद्भावना पर बल दिया। विशिष्ट अतिथि विधायक सुरेश राठौर ने कहा कि जिन बलिदानियों, अमर शहीदों ने राष्ट्र की स्वतंत्रता के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग किया हैं वे सदैव याद किये जाते रहेंगे। समारोह में आये हुए विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों, पत्रकारों एवं विशिष्ट लोगों का स्वागत एनयूजेआई के जिला अध्यक्ष बालकृष्ण शास्त्री, मुख्य संयोजक धर्मेन्द्र चौधरी, कोषाध्यक्ष तनवीर अली तथा प्रेस क्लब अध्यक्ष राजेश शर्मा ने किया। कार्यक्रम में आईआईटी रूड़की के प्रो. सतेन्द्र मित्तल तकनीकि, सीओ सिटी अभयप्रताप सिंह सामाजिक, श्री गंगा सभा धर्म संस्कृति, पत्रकार नरेश गुप्ता, क्रिकेट खिलाड़ी ईशांत पाण्डे, पत्रकार एम. हसीन, हिन्दी साहित्य मेनका त्रिपाठी, कुणाल धवन संगीत क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हेतु आठ विभूतियों को गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान से सम्मानित किया गया। संयोजक मण्डल के सदस्यों अवधेश शिवपुरी, ठाकुर शैलेन्द्र सिंह, राहुल वर्मा, कुमकुम शर्मा, संदीप रावत, लव शर्मा, शिवांग अग्रवाल, सतीश गुजराल, अरूण शर्मा आदि ने अतिथियों को प्रतीक चिन्ह व पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। समारोह में वरिष्ठ पत्रकार पीएस चौहान, सुनील पाण्डे, गंगा सभा अध्यक्ष प्रदीप झा, तन्मय वशिष्ठ, डॉ. विशाल गर्ग, संजय चोपड़ा, कमला जोशी, डॉ. राधिका नागरथ, इन्द्रमोहन बड़थ्वाल, अंजू द्विवेदी, नईम कुरैशी, जगदीश लाल पाहवा, डॉ. सत्यनारायण शर्मा, विशाल गर्ग, अनन्त मित्तल, सुमित तिवारी, अंजू द्विवेदी, संजय चोपडा, रामकुमार शर्मा, योगेश पाण्डेय, विमला पाण्डे, गुलशन नैय्यर, अमित शर्मा, दीपक नौटियाल, ललितेन्द्र नाथ,हिमांशु द्विवदी, अविक्षित रमन, विभाष मिश्रा, जितेन्द्र विद्याकुल,विकास चौहान,डॉ. धूम सिंह, अश्विनी शर्मा, सचिन भाटिया, भूपेन्द्र सिंह, उधम सिंह, ए.के. श्रीवास्तव, वेद प्रभा श्रीवास्तव, अंजली माहेश्वरी, कुमार दुष्यन्त, शमशेर बहादुर, अधीर कौशिक, नितिन राणा, अश्विनी अरोडा, सुनील दत्ता, सचिन तिवारी सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि और पत्रकार उपस्थित रहे।