ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
गुरुकुल महाविद्यालय में मंत्री और विधायक की जंग तेज देखें वीडियो
February 23, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • गुरुकुल महाविद्यालय में मंत्री और विधायक की जंग जारी

जहांगीर मालिक हरिद्वार

  • गुरुकुल महाविद्यालय में मंत्री और विधायक की जंग हुई तेज एक दूसरे के खिलाफ लगाए नारे
  • देशभर से हजारों की संख्या में आए आर्य समाज के संतों और किसानो ने सिटी मजिस्ट्रेट को दिया ज्ञापन

हरिद्वार गुरुकुल महाविद्यालय में दो पक्षों में चल रही वर्चस्व की जंग अब गुरुकुल से निकलकर बाहर आ गई है कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक और भाजपा विधायक स्वामी यतिस्वरानंद के नेतृत्व में वर्चस्व की जंग लड़ रहे दो गुटों का आंदोलन अब आर्य समाज और भारतीय किसान यूनियन और मदन गुट का आंदोलन बन गया है आज देशभर से हजारों की संख्या में आए आर्य समाज के संतों और किसानो ने गुरुकुल महाविद्यालय से सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय तक हुंकार रैली निकाली रैली में शामिल हजारों आर्य सामाजिक के संतों ने कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक पर भू माफियाओं को संरक्षण देने का आरोप लगाया और राज्य सरकार को हस्तक्षेप कर इस मामले को सुलझाने की मांग की उन्होंने कहा कि आर्य समाज की संस्था को खुर्दबुर्द नहीं होने दिया जाएगा वही मदन गुट के लोगों ने विधायक स्वामी यतिस्वरानंद की सीबीआई से जांच कराने की मांग की

आपको बता दें कि पिछले लंबे समय से गुरुकुल महाविद्यालय की संस्था समिति दो गुटों में बट गई और दोनों में वर्चस्व की जंग चल रही है बीजेपी विधायक स्वामी यतिस्वरानद नेअपने ही पार्टी के मंत्री मदन कौशिक पर गंभीर आरोप लगाए थे कि मंत्री गुरुकुल की हजारों करोड़ की संपत्ति को कब जाना चाहते हैं और इसको लेकर सरकार से जांच की मांग की थी आज मंत्री मदन कौशिक के खिलाफ आर्य समाज और भारतीय किसान यूनियन ने हुंकार रैली सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय तक निकाली इनका कहना है कि आज इस रैली के माध्यम से प्रशासन को अवगत कराया गया है कि वह इस समस्या का समाधान जल्द निकाले क्योंकि गुरुकुल में वैधानिक दृष्टि से स्वामी यतिस्वरानंद कमेटी के मंत्री है और वह गुरुकुल को विधिवत चला रहे हैं मगर कुछ लोग जो घोटालों में आरोपी है उनके ऊपर मंत्री का संरक्षण है मंत्री को इस तरह की भूमिका नहीं निभानी चाहिए इस मामले में मुख्यमंत्री को संज्ञान लेना चाहिए आज हमारी संस्था द्वारा निर्णय लिया गया है अगर 10 दिन के अंदर सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया तो आगे की जिम्मेदारी सरकार की होगी वही यतिस्वरानंद गुट के समर्थन में आए भाकियू के प्रदेश प्रभारी महंत शिवमपुरी महाराज का कहना है किआज हमने सिटी मजिस्ट्रेट को गुरुकुल महाविद्यालय को लेकर ज्ञापन दिया है हरिद्वार की धरोहर है गुरुकुल महाविद्यालय और इसमें राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं होना चाहिएइसमें गुरुकुल महाविद्यालय की जमीन को खुर्द दूर करने का प्रयास किया जा रहा है शासन और प्रशासन को इस मामले में उचित कार्रवाई करनी चाहिए

वही मदन गुट के लोगों का कहना है कि स्वामी यतिस्वरानंद सत्ता का दुरुपयोग कर रहे हैं हम ऐसा होने नहीं देंगे सरकार अगर हमें जेल में भी बंद करना चाहेगी हम जेल जाने को भी तैयार है हमें जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी हम उसे देने से पीछे नहीं हटेगी मगर स्वामी यतिस्वरानंद को गुरुकुल से हटा कर रहेगें विधायक स्वामी यतिस्वरानंद द्वारा अवैध कब्जे किए जाते हैं और इनके द्वारा अपने गुरु की हत्या भी की गई थी हम मांग करते हैं कि इनके खिलाफ सीबीआई जांच हो और जितनी भी इन्होंने संपत्तियां कब्जाई है उसकी भी जांच की जाए