ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
भारी बर्फबारी से बर्फीस्तान में तब्दील चमोली जिले के 130गाँव, आंगनबाड़ी की रहेगी का छुट्टी
January 8, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • https://youtu.be/737zM4y76BM click here

     मौसम विभाग का रेड अलर्ट
  • हुआ सही साबित
  • भारी बर्फबारी से बर्फीस्तान में तब्दील चमोली जिले के 130गाँव
    सफेद आसमानी आफत नें बढ़ाई, सीमांत वासियों की दुश्वारी,बर्फीले रेगिस्तान में तब्दील हिम क्रीड़ा केन्द्र औली

     संजय कुंवर जोशीमठ   सूबे के 6जिलों में मौसम का रेड अलर्ट का असर चमोली जिले पर सबसे ज्यादा दिखाई दे रहा है,बीते 48घंटों से  जिला चमोली के करीब 130गाँव बर्फ बारी से प्रभावित हो गये है, और अभी भी यहाँ जबरदस्त हिमपात हो रहा है, सबसे जादा सीमांत विकास खंड जोशीमठ में सफेद आसमानी आफत से बुरा हाल है, यहाँ दो दिनों से बारिश और बर्फ बारी का कहर थमने का नाम नही ले रहा है,पूरा पेंनखंडा छेत्र सफेद बर्फ की चादर से ढका है,हिम क्रीड़ा केन्द्र औली बर्फी का रेगीस्तान बन चुका है,तो औली रोड भी हिमपात के चलते बंद है,वही ब्लॉक के दुरस्त गाँवों डुमक, कलगोठ, किमाना, पल्ला, झखोला,सहित मोल्टा,पगनो,गनाई दाडमी,सलुड,लामबगड घाटी के,विनेक,पटूडी,अरूडी,बेनाकुली, कल्प घाटी सहित पर सारी,मेरग,बड़ा गाँव,चोरमी, पंय्या,करछों,तुगासी,रिंगी,शुभाई,भलगाँव,सहित धौली गंगा घाटी के दर्जनों गाँव मे भारी बर्फबारी होने से  बिजली पानी,सहित संपर्क मार्ग बंद हो गये है,ऐसे में गाँव में जन जीवन ठप हो गया है,लोग घरों में ही दुबकने को मजबुर हो गये है,वही बारिश और बर्फ बारी  को देखते हुए डीएम चमोली ने भी  IRS के नोडल अधिकारियो की बैठक बुलाकर तहसील स्तर पर अधिकारियो को रेड अलर्ट के चलते हर घटना पर नजर बनाये रखने के निर्देश दिये है,आने वाले 48घंटे विकास खंड के लोगों के लिए और दुश्वारीयां लेकर आएंगे
      जनपद चमोली  में विगत दो दिनों से हो रही भारी बर्फबारी और ठंड को देखते हुए जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने इंसीडेंट रिस्पांस सिस्टम से जुड़े सभी नोडल अधिकारियों की आपातकालीन बैठक लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने अधिकारियों को अलर्ट पर रहने और सभी व्यवस्थाओं को चाक-चैबंद रखने को कहा। जिला स्तरीय अधिकारियों के अवकाश पर रोक लगाते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि कोई भी अधिकारी बिना अनुमति के किसी भी दशा में मुख्यालय ना छोड़े। 

जिला आपातकालीन परिचालन केंद्र में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में बर्फबारी और ठंड से लोगों को राहत पहुंचाने पर जोर दिया गया।

 डीएम ने बर्फबारी वाले क्षेत्रों में सड़क, बिजली, पेयजल आपूर्ति, खाद्यान्न वितरण आदि जरूरी आवश्यकताओं की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि बर्फवारी से जो भी मोटर मार्ग अवरुद्ध हुए हैं उसको आवागमन के लिए तत्काल सुचारू करना सुनिश्चित करें। 


ईई विद्युत को जिले विद्युत आपूर्ति को सुचारू बनाए रखने के लिए जल्द ठोस कदम उठाने के निर्देश देते हुए जिलाधिकारी ने चेतावनी दी कि यदि विद्युत आपूर्ति सुचारू करने के लिए समयान्तर्गत कार्यवाही नही की गई तो आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 की धारा-56 के तहत सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। 

 विद्युत व्यवस्था को सुचारू रखने के लिए विभाग में मैनपावर बढाने के भी निर्देश दिए। वही जल संस्थान के अधिशासी अभियंता को पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा गया। 

जिला पूर्ति अधिकारी को दो दिनों के भीतर सभी राशन डीलरों तक फरवरी माह तक का खाद्यान्न एडवांस में उपलब्ध कराने तथा केरोसिन, डीजल, पेट्रोल सहित खाद्यान्न का पर्याप्त भंडारण रखने के निर्देश दिए गए। स्वास्थ्य विभाग को सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाए एवं दवाईयां उपलब्ध रखने को कहा गया। जिलाधिकारी ने कहा कि बर्फबारी के कारण कोई भी पेयजल लाईन या सड़क क्षतिग्रस्त हुई हो तो तत्काल उसका आंगणन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। 

         ताकि समय पर व्यवस्थाओं को सुचारू किया जा सके।जिले में बीएसएनएल की लचर सेवा पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने एसडीओ बीएसएनल को संचार व्यवस्था सुचारू रखने हेतु ठोस कदम उठाने के निर्देश दिए।

 कहा कि एनएचआईडीसीएल से समन्वय रखते हुए सड़क कटिंग वाले स्थानों पर कटिंग से पहले लाइन को शिफ्ट करें ताकि बार-बार लाइन अवरूद्व न हो।

     जिले में लगातार हो रही बर्फवारी और ठंड को देखते हुए डीएम ने 9 जनवरी को सभी आंगनबाडी केन्द्रों में अवकाश रखने के भी आदेश जारी किए है। वही आम जन मानस को ठंड से राहत दिलाने के लिए सभी प्रमुख स्थलों पर अलाव जलाने और तहसील स्तर पर गरीब लोगों में शीघ्र कंबल बांटने के भी निर्देश दिए। उन्होंने आईआरएस के नोडल अधिकारियों को अलर्ट पर रहने और किसी भी प्रकार की आपदा की सूचना तत्काल जिला आपातकालीन परिचालन केंद्र को उपलब्ध कराने को कहा है।