ALL समाचार मनोरंजन खेल अध्यात्म देश दुनिया ब्रेकिंग राज्य ज्योतिष BUSINESS
31वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर गोष्ठी का आयोजन
January 16, 2020 • सतोपथ एक्सप्रेस • समाचार
  • 31वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर गोष्ठी का आयोजन

 

ऐजाज हुसैन 

लालकुआं (नैनीताल)। सेंचुरी पल्प एंड पेपर मिल के मानव संसाधन विकास विभाग के सभागार में 31वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर जागरुकता अभियान के तहत एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस दौरान  लोगों को सड़क सुरक्षा तथा यातायात से जुड़े नियम सावधानियां और सुरक्षात्मक ड्राइविंग के तौर तरीके बताए गए। आरटीओ राजीव मेहरा ने सभागार में मिल कर्मियों से अपील करते हुए कहा कि सचेत रहकर सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करें, वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का प्रयोग कदापि न करें, रेड लाइट जम्पिंग न करें, चार पहिया वाहन चलाते समय सीट-बेल्ट का प्रयोग अवश्य करें, सड़क पार करते समय अपने वाहन को किनारे रोककर बच्चों, नेत्रहीनों तथा बिकलांगो को पहले रास्ता दें। नशे की हालत में वाहन न चलायें, किसी भी वाहन पर ओवरलोडिंग न करें चाहे वह यात्री वाहन हो अथवा माल वाहन, रात में डिपर का प्रयोग करें, बायें से ओवरटेक न करें और ओवरलोडिंग करने से पूर्व अगले वाहन चालक के संकेत की प्रतीक्षा करें तत्पश्चात वाहन आगे बढ़ायें इस तरह के अनेकों संदेश श्री महरा ने जागरुकता गोष्ठी के तहत अपने संबोधन में दिए। उन्होनें बताया कि आकड़ों के अनुसार प्रति वर्ष पाँच लाख लोग रोड एक्सिडेंट का शिकार हो रहे है। जिनमें डेढ़ लाख लोग अनायास मारे जाते हैं जो चिन्तनीय विषय है इसलिए सुरक्षा के पति सजग रहना हम सबका परम कर्तव्य है। इस अवसर पर एआरटीओ गुरुदेव सिंह ने सड़क सुरक्षा सप्ताह पर विस्तार से जानकारी देते हुए कहा  सड़क सुरक्षा सप्ताह एक ऐसा अवसर है ,जब हम जीवन और इसके सुरक्षा के महत्व को समझ सकते है ।और इस बात पर विचार कर सकते हैं कि यातायात नियमों का पालन करके हम ना सिर्फ अपनी जान बचा पायेंगे बल्कि की दूसरों की जिन्दगी की भी रक्षा कर पायेंगे।  आपके जीवन की सुरक्षा स्वयं आपके हांथ में होती है ।और यातायात नियमों का पालन करके आप अपने साथ-साथ दूसरों की सुरक्षा में भी योगदान देंकर अपने पावन कर्तव्य का पालन करते हैं। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन मुख्य संरक्षा अधिकारी एके मिश्रा ने किया। कार्यक्रम में मुख्य सुरक्षा अधिकारी राजेश खत्री, जनसंपर्क अधिकारी जगमोहन उप्रेती, मुकेश पाठक, अमित रघुंवंशी, एमएस परमार, राजीव वर्मा, हरीश वर्मा, वीपी श्रीवास्तव, केएस मेहरा, पीएस धौनी, हेमेन्द्र राठौर एवं कई ग्राम संगठनों के प्रतिनिधि एवं सुरक्षा विभाग से जुड़े अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।